Wednesday, July 6, 2022

why test series is important, किसी भी Exam की तैयारी के लिए Test Series क्यों महत्वपूर्ण है?

हर साल लाखों लोग कई प्रतियोगी परीक्षाओं के साथ-साथ Civil Services Exam के लिए उपस्थित होते हैं, लेकिन कुछ ही इसे पास कर पाते हैं। किसी भी परीक्षा के लिए, चाहे वह एक प्रतियोगी या एंट्रेंस परीक्षा हो, केवल प्रैक्टिस के माध्यम से ही कोई उम्मीदवार अच्छे अंक या रैंक प्राप्त कर सकता है। एक चीज जो इन स्टूडेंट्स को अन्य उम्मीदवारों से अलग बनाती है वह है ‘Mock Test/Test Series’। यह वास्तविक परीक्षा के लिए उपस्थित होने में बहुत मदद करता है। why test series is important इस बात का अंदाजा आपको इस ब्लॉग से लग जायेगा।

एक उम्मीदवार Test Series में अपने प्रदर्शन का एनालिसिस कर सकता है और वास्तविक परीक्षा में उसी गलतियों से बचने के लिए आवश्यक परिवर्तन कर सकता है। Mock Test/Test Series को हल करने से आपको यह जानने में मदद मिलेगी कि वास्तविक परीक्षा कैसी होगी। यह आपको विभिन्न चीजों के बारे में एक आईडिया देगा जैसे पेपर पैटर्न, किस तरह के प्रश्न पूछे जा सकते हैं, प्रश्नों का कठिनाई स्तर, और परीक्षा को पूरा करने में कितना समय लगता है, इत्यादि। 

एक टेस्ट सीरीज के प्रयास के बिना आप नहीं जान पाएंगे कि आपकी तैयारी कितनी अच्छी/बुरी है। आप Mock Test/Test Series में शामिल हो सकते हैं और रणनीति बना सकते हैं, अपने अध्ययन कार्यक्रम की योजना बना सकते हैं और अपनी तैयारी को बेहतर बना सकते हैं।

Practice Makes a Man Perfect ये तो अपने सुना ही होगा और प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए, टेस्ट सीरीज ही किसी भी उम्मीदवार और टॉपर के बीच का अंतर करती है।

तो Test Series क्यों जरूरी है? Mock Test के क्या फायदे हैं? Why Test Series is important for any exam? Why test series is important for civil service exam.

आइए इस शैक्षिक ब्लॉग द्वारा इन सवालों के जवाब लेते हैं।

यह Real Exam के माहौल से परिचित होने में मदद करता है:

Test Series को रियल टेस्ट पेपर के अनुसार डिजाइन किया गया जाता है। ये परीक्षा पत्र आपको लगभग समान प्रश्न पैटर्न, पाठ्यक्रम और कठिनाई स्तर से परिचित कराते हैं। इस प्रकार, टेस्ट सीरीज़ देने से उम्मीदवारों को वास्तविक परीक्षा के माहौल से परिचित होने में मदद मिलती है। यह वास्तव में छात्रों को परीक्षा पैटर्न को समझने में मदद करेगा।

घबराहट को रोकता है और आत्मविश्वास बढ़ाता है:

तनाव और चिंता दो ऐसे कारक हैं जो परीक्षा की तैयारी के दौरान बहुत मायने रखते हैं। ये कारक परीक्षा के प्रदर्शन पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकते हैं। ऐसा कई बार देखा गया है कि बहुत अधिक नर्वस या अधिक तनाव में रहने के कारण उम्मीदवार को जितने मार्क्स मिलने चाहिए थे उतने नहीं मिल पाते हैं। जब आप नर्वस होते हैं, तो यह आपकी याददाश्त और एकाग्रता को प्रभावित करता है जो कभी-कभी परीक्षा के दौरान “ब्लैंक-आउट” का कारण बन सकता है। यदि आप परीक्षा पैटर्न से परिचित हो जाते हैं, तो आप इस परीक्षा के डर को दूर कर सकते हैं। इसलिए जब आप पर्याप्त टेस्ट सीरीज़ हल करेंगे तो आपको पता चल जाएगा कि वास्तविक परीक्षा में यह कैसा होता है। जब आप टेस्ट मार्क्स में पर्याप्त स्कोर करते हैं तो आपको यह भी विश्वास होगा कि आप वास्तविक परीक्षा में भी अच्छा कर सकते हैं।

अपनी तैयारी का अच्छे से आंकलन कर पाते हैं:

जब आप किसी Mock/Test Series में भाग लेते हैं, तो आप अपने गलत उत्तरों की जांच कर सकते हैं और अपने सबसे कमजोर विषयों की पहचान कर सकते हैं, और उन्हें फिर से तैयार कर सकते हैं। टेस्ट सीरीज आपकी परीक्षा में सफलता की अंतिम चीज हो सकती है। किसी विशेष विषय पर आपके सभी सही उत्तर यह दर्शाएंगे कि आपके पाठ्यक्रम का कौन सा भाग आपकी ताकत है और आपको अधिक ध्यान देने की आवश्यकता नहीं है। टेस्ट सीरीज़ आपको concepts को याद रखने में मदद करेगी। यह आपको एक टेस्ट हल करने के बाद हर बार फिर से पाठ्यक्रम को revise करने में भी मदद करेगा।

आपकी Speed और Time Management में सुधार करती है:

परीक्षा के समय, Time Management एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। सही उत्तर जानने के बावजूद अधिकांश उम्मीदवार दिए गए समय के भीतर अपना परीक्षा पत्र पूरा नहीं कर पाते हैं और अंक खो देते हैं। उम्मीदवारों को अक्सर दिए गए समय में सभी प्रश्नों को पूर्ण सटीकता के साथ हल करने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है। टेस्ट पेपर वास्तविक परीक्षा पेपर पैटर्न के अनुसार तैयार किए जाते हैं, उन्हें हल करने से आपको अपने समय को manage करने और पूरे प्रश्न पत्र का सही उत्तर देने में मदद मिलेगी।

टेस्ट सीरीज को हल करने से आपको अंदाजा हो जाएगा कि आप कितने तेज या धीमे हैं। प्रश्न को हल करने की speed किसी भी प्रतियोगी परीक्षा के लिए अंतिम कारक हो सकती है। जब आप परीक्षण हल करते हैं तो आप महसूस कर सकते हैं कि आपको किसी विशेष खंड के लिए अधिक समय की आवश्यकता है और दूसरे के लिए कम। एक बार जब आप यह जान लेते हैं, तो आप इस तरह से योजना बना सकते हैं कि प्रत्येक अनुभाग पर कितना समय व्यतीत करना है ताकि आप पेपर पूरा कर सकें और यहां तक ​​कि एक निश्चित प्रश्न के बारे में सोचने के लिए पर्याप्त समय मिल सके।

सिलेबस को revise करने का सबसे आसान तरीका:

टेस्ट सीरीज़ की प्रैक्टिस न केवल आपके आत्मविश्वास को बढ़ाता है बल्कि वास्तव में आपके पूरे सिलेबस को revise करता है। परीक्षा की तैयारी के दौरान छात्रों के सामने सबसे आम समस्या यह है कि वे अगले विषयों पर आगे बढ़ने के बाद पहले के अध्यायों को भूलने लगते हैं। टेस्ट पेपर तैयार किए जाते हैं ताकि वे सिलेबस के लगभग हर महत्वपूर्ण विषय को कवर कर सकें। इसलिए, उन्हें हल करने से छात्रों को नियमित रूप से पाठ्यक्रम का पूर्ण संशोधन प्राप्त करने में मदद मिलेगी। इसलिए, यदि आपने पहले से ही अपने पाठ्यक्रम के एक निश्चित खंड को एक या दो बार revise किया है, तो आप अपने revision को मजबूत बनाने के लिए टेस्ट सीरीज़ या मॉक टेस्ट का उपयोग कर सकते हैं।

रणनीति तैयार करने में मदद करता है:

टेस्ट सीरीज़ का प्रयास करने से वास्तव में पता चलेगा कि मुख्य परीक्षा में आपकी रणनीति क्या होनी चाहिए। आपने अपनी परीक्षा का प्रयास करने के लिए जो भी रणनीति तैयार की है, आपको पता चल जाएगा कि यह काम करती है या नहीं, जब आप टेस्ट सीरीज़ को हल करते हैं। इसलिए, अपनी अंतिम परीक्षा में प्रयोग करने के बजाय, मॉक टेस्ट की मदद से प्रयोग करना और अपने लक्ष्यों के अनुरूप सही परीक्षा रणनीति ढूंढना बेहतर है।

सभी विद्यार्थियों को शुभकामनाएं!!

Bhavna Pandit
Bhavna Pandit has Master Degree in Computer Application. She has a great interest in Teaching as well as in Content Writing for Computer, Current Affairs, and other Competitive Examinations. She has more than 5 Years of experience in Teaching.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

80FansLike
110FollowersFollow

Latest Articles